बीस साल पहले

'बीस साल पहले' फिल्म में फरीदा जलाल

बीस साल पहले, आज के दिन लिनेक्स करनल प्रकाशित हुआ था। इस चिट्ठी में इसी की चर्चा है। Read more of this post

कुम्भ राशि की सुनहरी सुबह

इस चिट्ठी में, ब्रॉडवे के द्वारा, अमेरिकी कबायली प्रेम रॉक संगीत नाटिका ‘हेयर’ के पुनः प्रदर्शन एवं ‘ऐज ऑफ एक्वेरियस’ गाने की चर्चा है।

अमेरिकी कबायली प्रेम रॉक संगीत नाटक ‘हेयर’ के पुनः प्रदर्शन से एक चित्र

Read more of this post

सुन्दरता का पैमाना

मिस कैलिफोर्निया - एलिस्सा कैम्पैनेल्ला

इस चिट्ठी में, मिस यूएसऐ २०११ की प्रतियोगिता में प्रतियोगियों के विकासवाद के विचारों के बारे में चर्चा है।

Read more of this post

१०० रातों का वायदा, चला ३२१८ रातें

इस चिट्ठी में ऐलिस ऑज़मा के द्वारा लिखित पुस्तक  ‘द रीडिंग प्रॉमिस’ के बारे में चर्चा करते हुऐ बच्चों में पुस्तक प्रेम जगाने के तरीके के बारे में चर्चा है।

Read more of this post

सुन्दर वह, जो सुन्दर काम करे

फिल्म रोम

रोमन हॉलीडे में ऑड्री हेपबर्न

मेरे लिये वास्तविक सुन्दरता का अर्थ है सुन्दर कार्य करना। इस बारे में ऑड्री हेपबर्न के बारे उनकी कुछ बातें।

Read more of this post

सृष्टि की उत्पत्ति – हमारी कहानी

कौन ... कहता है कि हमारे और बन्दरों के पूर्वज एक थे देखिये हममें कितना अन्तर है 🙂

कुछ समय पहले मैंने ‘डार्विन, विकासवाद, और मज़हबी रोड़े’ नामक श्रृंखला कई कड़ियों में लिखी थी। इसमें डार्विन के जीवन, विकासवाद सिद्धान्त, उस पर होने वाले विवाद, और इस विषय पर चले मुकदमें की चर्चा की थी। इसका अलग अलग कड़ियों का पॉडकास्ट भी किया था।

विकासवाद के विरुद्ध, सृजनवादियों एक आपत्ति यह भी है कि विकासवाद उष्मागति के दूसरे नियम का उल्लंघन करता है। इसकी चर्चा मैंने ‘विकासवाद उष्मागति के दूसरे नियम का उल्लंघन करता है‘ की कड़ी में की है। इसके बाद इसे कुछ विस्तार से ‘समय की चाल – व्यवस्था से, अव्यवस्था की ओर‘ की कड़ी में समझाया है। यह श्रृंखला पूरी हो चुकी है। कुछ समय पहले इससे संबन्धित एक बेहतरीन विडियो देखा है – कुछ चर्चा उसके बारे में। Read more of this post

सफलता की सीढ़ी

यह कहना मुश्किल है कि सफलता की सीढ़ी गलत रास्तों से जाती है या सफल लोगों से लोग जलने लग जाते हैं? इस पर बहुत कुछ दोनो तरफ से कहा जा सकता है। यह विषय तो कुछ विवादास्पद है। लेकिन, सफल लोगों के कमजोर पहुलवों पर लिखने वालों की कमी नहीं है।

कुछ समय पहले मैंने ‘लिनेक्स प्रेमी पुरुष – ज्यादा कामुक और भावुक???‘। इस पर रवी जी ने टिप्पणी की,

‘तो क्या खिड़की (विंडोज़) प्रेमी ठंडे और कठोर होते हैं? ;)’

उनकी टिप्पणी पर, मैंने एक अन्य चिट्ठी, ‘तो क्या खिड़की प्रेमी ठंडे और कठोर होते हैं?‘ नाम से लिखी। वास्तव में यह HARD DRIVE Bill Gates and the making of the Microsoft Empire by James Wallace & Jim Erickson नामक पुस्तक के बारे में थी जो कि मुख्यतः बिल गेटस् की जीवनी है और उनके कमजोर पक्ष को बताती है। Read more of this post

सरकार और न्यायालय भी समझने लगे मुक्त सॉफ्टवेयर का महत्व

इटली के संवैधानिक न्यायालय की इमारत विकिमीडिया के सौजन्य से

लगता है कि न केवल सरकारें पर न्यायालय भी मुक्त सॉफ्टवेयर का महत्व समझने लगे हैं।

पिज़ मॉन्टे (Piedmont) इटली का उत्तरी पश्चमी क्षेत्र है। ट्यूरिन इसकी राजधानी है। इसने एक नया कानून बनाया कि सरकारी कामों में मुक्त सॉफ्टवेयर को  प्राथमिकता दी जायगी।  इस कानून की संवैधानिकता को चुनौती दी गयी। Read more of this post

कर्म से है सबकी पहचान

मेरे कुछ दिन तनाव में बीते। कल मन में शान्ति आयी। मैं और शुभा बहुत दिनो बाद मस्ती करने के लिये निकल गये। बिना किसी प्रोग्राम के, बिना किसी खास जगह जाने के लिये, खाना भी रात में बाहर ही खाया।  रात देर में लौटे।

कल गांधी जयन्ती भी थी। मुझे अपनी पुरानी एक चिट्ठी मेरे जीवन में धर्म का महत्व याद आयी। यह मैंने अनुगूंज के लिये लिखी थी। एक अनमोल तोहफा लिखते समय मैंने लिखा था कि यह मेरी सबसे प्यारी चिट्ठी है। यह आज भी सच है। मेरी सारी चिट्ठियों में केवल यही चिट्ठी पद्य में है। यह पुनः प्रेषित है। Read more of this post

मैंने ‘ज्योतिष, अंक विद्या, हस्तरेखा विद्या, और टोने-टुटके’ श्रृंखला अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिये लिखी

मैंने इस चिट्ठे की पिछली चिट्ठी में बताया था कि मैंने ‘ज्योतिष, अंक विद्या, हस्तरेखा विद्या, और टोने-टुटके‘ श्रृंखला ज्योतिष पर विश्वास करने वालों का मजाक बनाने के लिये या किसी की आस्था या विश्वास पर चोट पहुंचाने के लिये नहीं लिखी थी और वायदा किया कि इसके लिखने का कारण बताउंगा। इस चिट्ठी इस श्रृंखला के लिखने का कारण है। Read more of this post

%d bloggers like this: