केक खिलाना – क्या दोस्ती का हाथ है

लिनेक्स का प्रतीक चिन्ह

विंडोज़ का प्रतीक चिन्ह

इस चिट्ठी में अन्दाज लगाया गया है कि क्या विंडोज़ और लिनेक्स पास आ रहे हैं।

Read more of this post

बीस साल पहले

'बीस साल पहले' फिल्म में फरीदा जलाल

बीस साल पहले, आज के दिन लिनेक्स करनल प्रकाशित हुआ था। इस चिट्ठी में इसी की चर्चा है। Read more of this post

सरकार और न्यायालय भी समझने लगे मुक्त सॉफ्टवेयर का महत्व

इटली के संवैधानिक न्यायालय की इमारत विकिमीडिया के सौजन्य से

लगता है कि न केवल सरकारें पर न्यायालय भी मुक्त सॉफ्टवेयर का महत्व समझने लगे हैं।

पिज़ मॉन्टे (Piedmont) इटली का उत्तरी पश्चमी क्षेत्र है। ट्यूरिन इसकी राजधानी है। इसने एक नया कानून बनाया कि सरकारी कामों में मुक्त सॉफ्टवेयर को  प्राथमिकता दी जायगी।  इस कानून की संवैधानिकता को चुनौती दी गयी। Read more of this post

बकबक सुनना, हुआ आसान

‘उन्मुक्त जी, यह भी कोई बात हुई। बकबक कौन सुनना चाहता है?’

अरे भाई, अरे बहना, मैं उस बकबक की बात नहीं कर रहा हूं मैं तो अपने पॉडकास्ट  ‘बकबक‘ की बात कर रहा हूं। मैं अपने पॉडकास्टों को ऑग (ogg) मानक (format) में करता हूं। इसी लिये, कुछ लोगों को इसे विंडोज़ में सुनने में कठिनाई होती है। Read more of this post

इंटरनेट (अन्तरजाल) का प्रयोग – मौलिक अधिकार है

अन्तरजाल पर कॉपीराइट का उल्लंघन रोकना मुश्किल है। इसको रोकने के लिये नये नये तरीके ढूंढे जा रहे नये नये कानून भी बन रहे हैं। नये कानूनों की वैधता को भी न्यायालयों में चुनौती दी जा रही है। तकनीक के विकास के साथ, कानून का भी विकास हो रहा है। internet_dog

(Cartoon by Peter Steiner. The New Yorker, July 5, 1993
issue [Vol.69 no. 20] page 61 – taken from here.)

Read more of this post

आज़ादी का मतलब

कुछ दिन पहले लिनेक्स फाउंडेशन ने “I’m a Mac” और “I’m a PC” विज्ञापन के जवाब में लिनेक्स समर्थकों से “We’re Linux” विषय पर आधारित लिनेक्स विज्ञापन के लिये एक प्रतिस्पर्धा का आयोजन किया था। इसका निर्णय तीसरी लिनेक्स कोलेबरेशन सम्मेलन, में किया गया। यह सम्मेलन ८-१० अप्रैल २००९ में सैन फ्रांसिसको में आयोजित की गयी। इसमें इस विडियो को प्रथम पुरुस्कार मिला।


इसके बारे में विस्तार से यहां पढ़ा जा सकता है।

चित्र विकिपीडिया से

पहेली – बताइये, आज कौन सा दिवस है?

क्या आप जानते हैं कि आज कौन सा दिवस है

उन्मुक्त जी, क्या मालुम आज कौन सा दिवस है, कहां तक याद रखें। रोज ही कोई न कोई दिवस आ जाता है। अब यह कौन सा नया दिवस है?’

Read more of this post

आज का दिन महत्वपूर्ण है

‘अरे उन्मुक्त जी, क्यों बोर कर रहे हैं। हमें भी मालुम है कि आज अलबर्ट आइन्स्टीन का जन्मदिन है। केवल आप ही नहीं हैं जिसने जीशान जी की बेहतरीन चिट्ठी पढ़ी है। हमने भी उसे पढ़ा है। दूसरों की बात मत दोहराइये।’

Read more of this post

क्यों साल १९८४, उन्नीस सौ चौरासी की तरह नहीं था

क्या आप जानते हैं कि १९८४ क्यों प्रसिद्ध है? मैंने इस वर्ष का नाम १९६० के दशक के अन्त में अपने  विश्वविद्यालय के जीवन में सुना जब मैंने जॉर्ज ऑर्वेल (George Orwell) के द्वारा इसी नाम   की लिखित पुस्तक ‘उन्नीस सौ चौरासी’ (Nineteen Eighty four) को पढ़ा।

Read more of this post

मुझे लिनेक्स से क्यों प्यार है

इसमें शक नहीं कि चित्र हजार शब्दों से बेहतर किसी बात को कह सकता है। यह चित्र इसका प्रमाण है।

Read more of this post

%d bloggers like this: